HomeHimachal Newsबड़ी राहत : चुनावी साल में न्यूनतम बस किराये में कटौती करने...

बड़ी राहत : चुनावी साल में न्यूनतम बस किराये में कटौती करने की तैयारी

In the election year, the Himachal government is preparing to give a gift of two rupees reduction in the minimum bus fare to the people of the state. In the first month of the year itself, a notification may be issued to reduce the minimum bus fare from seven to five rupees. Transport Minister Bikram Singh Thakur has directed the Transport Department to prepare a proposal regarding this and send it to the government.

चुनावी साल में Himachal सरकार प्रदेश के लोगों को न्यूनतम बस किराये में दो रुपये की कटौती का तोहफा देने की तैयारी कर रही है। साल के पहले ही माह न्यूनतम बस किराया सात से घटाकर पांच रुपये करने की अधिसूचना जारी हो सकती है। परिवहन मंत्री बिक्रम सिंह ठाकुर ने परिवहन विभाग को इसे लेकर प्रस्ताव तैयार कर सरकार को भेजने के निर्देश दिए हैं।

मौजूदा समय में न्यूनतम बस किराया सात रुपये होने के चलते सूबे में चल रही निजी और सरकारी बसों में कुछ कंडक्टर सवारियों से 10 रुपये लेकर 3 रुपये बकाया नहीं लौटा रहे। मुख्यमंत्री सेवा संकल्प 1100 पर भी लोग इसे लेकर मुख्यमंत्री को शिकायतें भेज रहे हैं।

फ़ैल रहा कोरोना : हिमाचल में विधायक पाए गए कोविड पॉजिटिव, DC भी परिवार सहित हुए कोरोना संक्रमित

चुनावी साल में सरकार लोगों की नाराजगी मोल नहीं लेना चाहती। समस्या के स्थायी समाधान के लिए न्यूनतम बस किराया दो रुपये कम करने की तैयारी है। कोरोना के कारण आर्थिक तंगी से जूझ रहे आम लोगों के लिए न्यूनतम बस किराये में कटौती का फैसला राहत भरा साबित हो सकता है।

बकाया न लौटाने की मिल रही शिकायतें : बिक्रम 
परिवहन मंत्री बिक्रम सिंह ठाकुर ने बताया कि न्यूनतम बस किराया सात रुपये होने के चलते बसों में यात्रियों को बकाया न लौटने की शिकायतें मिल रही हैं। लोगों को राहत देने के लिए न्यूनतम बस किराया पांच रुपये करने की तैयारी है। जल्द सरकार इसे लेकर फैसला लगी।

चार साल में सरकार ने दो बार बढ़ाया किराया
मौजूदा सरकार ने 4 साल के कार्यकाल में दो बार बस किराया बढ़ाया। सितंबर 2018 में सामान्य किराये में 20 से 25 फीसदी बढ़ोतरी कर न्यूनतम किराया 3 से 6 रुपये कर दिया था। हालांकि लोगों के विरोध के बाद अगले ही महीने अक्तूबर में न्यूनतम किराया 5 रुपये कर दिया गया। इसके बाद कोरोना काल में जुलाई 2020 में एक बार फिर बस किराये में 25 फीसदी की बढ़ोतरी कर दी गई और न्यूनतम किराया 5 से बढ़ा कर 7 रुपये कर दिया गया।

Himachal Pradesh में यह है प्रति किलोमीटर किराये की दरें
पहाड़ी क्षेत्र 2.19 रुपये प्रति किलोमीटर
मैदानी क्षेत्र 1.40 रुपये प्रति किलोमीटर

RELATED ARTICLES

Most Popular