Homeछात्रों के लिए खुशखबरी : FREE होंगे अब DCA और PGDCA के...

छात्रों के लिए खुशखबरी : FREE होंगे अब DCA और PGDCA के कोर्स

Corporate management has now changed this. Now the trainees do not have to pay any fees. Both the courses will be completely free. The courses are expected to start this month. According to the information, the courses of DCA and PGDCA were to be started by Himachal Pradesh Skill Development Corporation on the basis of refundable fees. Trainees could deposit the prescribed fee in two stages. The annual fee for Diploma in Computer Application was fixed at Rs 16,000. The trainees were to pay Rs 23,000 for PGDCA.

DCA and PGDCA courses will be free in Himachal

हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम की ओर से करवाए जाने वाले डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (DCA) और पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (PGDCA) कोर्स में अब प्रशिक्षुुओं को किसी प्रकार की फीस नहीं देनी होगी। प्रशिक्षण शुरू होने से पहले प्रदेश के हजारों युवाओं को बड़ी राहत हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम की ओर से दी गई है। इससे पहले इन कोर्सों के लिए रिफंडेबल फीस का प्रावधान था।

Top PGDCA Degree Colleges in Himachal Pradesh 2022
Top PGDCA Degree Colleges in Himachal Pradesh 2022

निगम प्रबंधन ने अब इसमें बदलाव किया है। अब प्रशिक्षुओं को कोई फीस नहीं देनी है। दोनों कोर्स पूरी तरह निशुल्क होंगे। इसी माह कोर्सों की पढ़ाई शुरू होने की उम्मीद है। जानकारी के अनुसार हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम की ओर से डीसीए और पीजीडीसीए के कोर्स रिफंडेबल फीस के आधार पर शुरू किए जाने थे। निर्धारित फीस को दो चरणों में प्रशिक्षु जमा करवा सकते थे। डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन के लिए सालाना फीस 16,000 रुपये निर्धारित की गई थी। पीजीडीसीए के लिए 23,000 रुपये प्रशिक्षुओं को देने थे।

अब नए निर्देशों के मुताबिक दोनों कोर्सों को हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम की ओर से निशुल्क कर दिया गया है। उन्हें इन कोर्सों की पढ़ाई के लिए किसी प्रकार की फीस नहीं देनी होगी। हिमाचल प्रदेश कौशल विकास निगम (Himachal Pradesh Skill Development Corporation) के जिला समन्वयक दीपक शर्मा ने बताया कि नए निर्देशों के तहत डीसीए और पीजीडीसीए कोर्स (DCA and PGDCA courses) अब निशुल्क शुरू होंगे। इसी सत्र से यह निर्देश लागू किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि पहले यह कोर्स रिफंडेबल फीस के तहत होने थे।

RELATED ARTICLES

Most Popular