HomeHimachal Newsहिमाचल में 17 हजार पदों पर भर्ती करेगी सरकार

हिमाचल में 17 हजार पदों पर भर्ती करेगी सरकार

While making a big announcement in Mandi district today, Himachal Pradesh Minister for Jal Shakti, Horticulture and Sainik Welfare, Mahendra Singh Thakur said that the state government is going to recruit more than 17 thousand posts in the coming time. According to the minister, about 8 thousand posts will be filled in the Education Department, about 5 thousand in the Public Works Department, about 4 thousand posts in the Jal Shakti Department. At the same time, the process of filling the vacant posts in other departments will also be started, due to which the people of the state will get employment and the public will also get convenience.

Himachal Government recruit 17 thousand posts

हिमाचल प्रदेश सरकार के जल शक्ति, बागवानी एवं सैनिक कल्याण मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने आज मंडी जिले में बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार आने वाले समय में 17 हजार से ज्यादा पदों पर भर्तियां करने वाली है।

मंत्री के अनुसार इसमें शिक्षा विभाग में लगभग 8 हजार, लोक निर्माण विभाग में लगभग 5 हजार, जल शक्ति विभाग में लगभग 4 हजार पद भरे जाएंगे। वहीं, अन्य विभागों में भी रिक्त पड़े पदों को भरने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी, जिससे प्रदेश के लोगों को रोजगार भी मिलेगा और जनता को भी सुविधा होगी।

उन्होंने कहा कि आने वाले समय में होने वाली हिमाचल कैबिनेट मीटिंग में प्रदेश भर में रिक्त पड़े पदों को भरने को लेकर चर्चा होने के बाद कैबिनेट की मंजूरी से पदों को भरा जाएगा।

हिमाचल में 20 नईं शाखाएं खोलेगा यूको बैंक (UCO Bank to open 20 new branches in Himachal)

वहीं, दूस्सरी तरफ राज्य स्तरीय बैंकर्ज समिति की बैठक शिमला में आयोजित की गई। यूको बैक के प्रबंध निदेशक व मुख्य कार्यपालक अधिकारी सोमा शंकर प्रसाद की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में बैकों द्वारा केंद्र व प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं को कार्यान्वित करने व बैकों के माध्यम से प्रदेश के विकास के लिए प्रयास बढ़ाने पर विस्तृत चर्चा की गई।

इस दौरान उन्होंने बताया कि हिमाचल प्रदेश में बैकों की सेवाएं बढ़ाने के लिए यूको बैंक की 20 नई शाखाएं खोली जाएगी। पिछले दो वर्षो में कोरोना के चलते बैंकों का मुख्य उद्देश्य वित्तीय व्यवस्था बनाए रखना था, लेकिन अब जब कोरोना में कमी आई है तो बैकिंग सेक्टर का मुख्य उद्देश्य अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देना होगा।

RELATED ARTICLES

Most Popular