HomeHimachal Newsदर्दनाक हादसा, जीप गिरी, मां-बेटे की मौत

दर्दनाक हादसा, जीप गिरी, मां-बेटे की मौत

Mother and son died on the spot in a painful road accident in Kulandar village of Pali, sub-division of Mandi district. Two girls have been injured in the accident. Both have been admitted to the Zonal Hospital Mandi for treatment. The deceased have been identified as 31-year-old Guddi Devi wife Nagendra Kumar alias Kaku, 11-year-old his son Ishan resident of Kulandar Post Office Pali Tehsil Padhar District Mandi.

Painful road accident Padhar District Mandi

मंडी जिला के उपमंडल पद्धर की ग्राम पंचायत पाली के कुलांदर गांव में दर्दनाक सड़क हादसे (painful road accident) में मां और बेटे की मौके पर मौत हो गई। हादसे में दो लड़कियां घायल हुई हैं। दोनों को उपचार के लिए जोनल अस्पताल मंडी (Zonal Hospital Mandi) में भर्ती करवाया गया है। मृतकों की पहचान 31 वर्षीय गुड्डी देवी पत्नी नागेंद्र कुमार उर्फ काकू, 11 वर्षीय उसके बेटे ईशान निवासी कुलांदर डाकघर पाली तहसील पद्धर जिला मंडी (Tehsil Padhar District Mandi) के रूप में हुई है।

घायलों में बेटी 15 वर्षीय संजना पुत्री नागेंद्र कुमार और चेतना पुत्री लेख राज निवासी कुलांदर शामिल हैं। जानकारी के अनुसार हादसा गत रविवार रात करीब 12 बजे हुआ बताया जा रहा है। जीप में सवार एक ही परिवार के सभी सदस्य समीप के गांव भराड़ा से शादी समारोह से घर के आंगन तक लौट चुके थे। चालक वाहन मालिक सहित दो सदस्य जीप की कैबिन में बैठे थे, जो सुरक्षित गनीमत से नीचे उतर गए थे।

चालक ने जीप को बंद कर खड़ा कर दिया और टायर के पीछे पत्थर लगाने जा रहा था कि इतने में जीप पीछे की ओर खिसक कर ढांक से नीचे जा लुढ़की। परिवार के अन्य चार सदस्य जीप के पीछे बैठे थे, जिनमें दो लड़कियां गंभीर रूप से घायल हो गईं और मां-बेटे की मौके पर मौत हो गई। जीप घर के आंगन से 200 मीटर नीचे सड़क पर एक चट्टान से जा टकराई।

इसके बाद दर्दनाक हादसा घटित हो गया। वहीं, हादसे की पुष्टि पुलिस थाना प्रभारी पद्धर अशोक कुमार ने की है। पुलिस ने मृतक मां-बेटे का पोस्टमार्टम करवाने के बाद शवों को परिजनों को सौंप दिया है। बता दें कि हादसे में मां-बेटे की मौत से जहां परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है, तो दूसरी तरफ 11 वर्षीय ईशान परिवार में सबसे छोटा और लाड़ला था तथा इकलौता चिराग था। अब उनके छोटे से परिवार में उसके पिता व एक छोटी बहन रह गई है। हालांकि उसकी बहन 15 वर्षीय बहन संजना का भी अस्पताल में उपचार चल रहा है। इसके साथ गांव में एक ही परिवार से दो लोगों की अचानक मौत से मातम का माहौल छा गया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular