HomeHimachal Newsहिमाचल में बेरोजगारी का आलम , क्लर्क की 1 पोस्ट के लिए...

हिमाचल में बेरोजगारी का आलम , क्लर्क की 1 पोस्ट के लिए 22 हजार आवेदन

Let us tell you that before this, such a large number of applications had not come before for any one post. This post is being filled by Staff Selection Commission Hamirpur.

Unemployment in Himachal, 22 thousand applications for 1 post of clerk

हिमाचल प्रदेश में बेरोजगारी का आलम कितना है, इस बात से पता चलता है कि 1 सरकारी पोस्ट के लिए 22 हजार एप्लीकेशन्स आए हैं. जूनियर ऑफिस असिस्टेंट (जेओए-आईटी) के एक पद के लिए यह भर्ती होनी है और 22 हजार लोगों ने इसके लिए आवेदन किया है.
The unemployment rate in Himachal Pradesh shows that 22 thousand applications have come for 1 government post. This recruitment is to be held for one post of Junior Office Assistant (JOA-IT) and 22 thousand people have applied for it.

बता दें कि इससे पहले, किसी एक पद के लिए पहले इतनी बड़ी संख्या में आवेदन नहीं आए थे. कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर ( Staff Selection Commission Hamirpur ) की ओर से यह पद भरा जा रहा है.

दरअसल आपको बता दें कि, हिमाचल प्रदेश तकनीकी विश्वविद्यालय हमीरपुर में जेओए आईटी का एक पद भरा जाएगा और 9 अक्तूबर को जेओए आईटी के लिए लिखित परीक्षा करवाई जाएगी.
Actually, let us tell you that one post of JOA IT will be filled in Himachal Pradesh Technical University Hamirpur and written exam for JOA IT will be conducted on 9th October.

ऐसा नहीं है कि यह पहला मामला है, जिससे पता चलता है कि सूबे में कितनी बेरोजगारी है. इससे पहले भी कई बार चंद पदों के लिए लाखों आवेदन आ चुक हैं.

हाल ही में जून 2022 में हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में चपरासी के 93 पदों के लिए भर्ती हुई थी. इसमें मैट्रिक के टॉपर ने भी आवदेन किया था.
Recently in June 2022, Himachal Pradesh University had recruited for 93 posts of peons. In this, the topper of matriculation also applied.

युवती के दसवीं में 96.85 फीसदी अंक थे. इसके अलावा, अन्य आवदेकों के भी 90 प्रतिशत से ऊपर अंक हैं. इस संबंध में कैटेगिरी के हिसाब से मेरिट सूची जारी की गई थी और मैरिट देखकर हर कोई हैरान रह गया था.

अब ताजा मामले से पता चलता है कि हिमाचल में पढ़े-लिखे युवाओं के लिए बेरोजगारी किस तरह से गंभीर समस्या है.
Now the latest case shows how unemployment is a serious problem for the educated youth in Himachal.

RELATED ARTICLES

Most Popular