HomeHimachal Newsछात्रों के लिए खुशखबरी : आ गई लैपटॉप मिलने की डेट

छात्रों के लिए खुशखबरी : आ गई लैपटॉप मिलने की डेट

The wait that has been going on for the last four years for about 20 thousand meritorious students studying in schools and colleges of Himachal Pradesh is about to end. Laptops will be given to the meritorious from May 25 to 30. The Directorate of Higher Education has completed its preparation. File has been sent to Chief Minister Jai Ram Thakur to take time for distribution of laptops. As soon as it is approved by the Chief Minister's Office, the directorate will release the outline of the laptop allocation program.

हिमाचल प्रदेश के स्कूल और कॉलेजों में पढ़ने वाले करीब 20 हजार मेधावियों का बीते चार वर्षों से चला आ रहा इंतजार खत्म होने वाला है। 25 से 30 मई तक मेधावियों को लैपटॉप दिए जाएंगे। उच्च शिक्षा निदेशालय ने इसकी तैयारी पूरी कर ली है। लैपटॉप वितरण के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से समय लेने को फाइल भेजी गई है। मुख्यमंत्री कार्यालय से इसकी मंजूरी मिलते ही निदेशालय लैपटॉप आवंटन के कार्यक्रम की रूपरेखा को जारी कर देगा।

मेधावियों को पहली बार आधुनिक तकनीक वाले 41,550 रुपये की कीमत वाले लैपटॉप दिए जाएंगे। पूर्व की सरकारों के समय 10 से 12 हजार रुपये की कीमत के लैपटॉप दिए जाते रहे हैं। सरकार ने डैल कंपनी के आई थ्री प्रोसेसर वाले विंडो 10 लैपटॉप देने का फैसला लिया है। इसमें चार जीबी की रैम होगी, जिसे स्लॉट के माध्यम से 16 जीबी तक बढ़ाया भी जा सकेगा। लैपटॉप की हार्ड डिस्क ड्राइव एक टेरा बाइट (टीबी) की होगी।

इन लैपटॉप में माइक्रो साफ्ट की विद्यार्थी योजना के तहत विंडो 10 इंस्टाल की गई है। 720 पिक्सल का वेब कैमरा और माइक्रोफोन भी लैपटॉप में शामिल किया गया है। मेधावियों को दिए जाने वाले लैपटॉप की स्क्रीन 14 इंच की होगी। इसमें यूएसबी के तीन पोर्ट दिए गए हैं। सीडी ड्राइव इसमें नहीं दी गई है। 1.63 किलोग्राम भार के लैपटॉप की बैटरी सहित तीन वर्ष की वारंटी होगी। लैपटॉप बैटरी की क्षमता चार घंटे लगातार प्रयोग करने की रहेगी।

शैक्षणिक सत्र 2018-19 और 2019-20 के बीस हजार मेधावियों को लैपटॉप दिए जाने हैं। मेरिट सूची में शामिल दसवीं और बारहवीं कक्षा के 18019 और कॉलेजों के 1828 मेधावियों को लैपटॉप दिए जाने हैं। कोरोना संकट के कारण बीते दो वर्ष के दौरान लैपटॉप की खरीद प्रक्रिया प्रभावित हुई है। शैक्षणिक सत्र 2020-21 और 2021-22 के मेधावियों के लिए सरकार ने स्मार्ट मोबाइल फोन देने का फैसला लिया है। उच्च शिक्षा निदेशालय ने स्मार्ट फोन की खरीद प्रक्रिया भी शुरू कर दी है।

RELATED ARTICLES

Most Popular